हिजबुल को दिया अज़ीज़ कुरैशी ने जवाब, कहा सेकुलर भारत को कोई हिला नहीं सकता

0
2477

उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अज़ीज़ कुरैशी ने हिजबुल मुजहिदीन पर तीखी टिप्पणी की है।

बीते हफ्ते हिजबुल कमान्डर जाकिर मूसा के विडियो मेसेज से भूचाल मचा है जिसमे हिजबुल मुजाहिदीन  कमांडर ने कहा है कि  भारत में कश्मीरी की लड़ाई जम्हूरियत की न होकर इस्लाम की हुकूमत कायम करने की लडाई है। इसके लिए मुसलमान भी रस्ते में आये तो उनके सर काट दिए जायेंगे ।

इस पूरे वाकये पर उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अज़ीज़ कुरैशी ने  अपने दफ्तर से जारी बयान में कहा है कि हिजबुल  कमान्डर जाकिर मूसा के मंसूबो को भारत के लोग कामयाब नहीं होने देंगे और सेकुलर संविधान के किरदार पर कोई आंच आयी 20 करोड़ मुसलमान इसके लिए खून का आखिरी क़तरा भी बहाना पड़े तो मुसलमान तैयार हैं।

उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अज़ीज़ कुरैशी ने देश के युवाओ को उनके दायित्व को चेताते हुए कहा है कि यह वक़्त है युवाओं खासकर मुसलमान युवाओं को इस मुल्क के संविधान और जम्हूरियत को मज़बूत करने के लिए आगे आने का है । युवा तय करले कि वो हामारी आजादी और स्वतंत्रता संग्राम की कोख से निकली अज़ीम जम्हूरियत के को लडखडाने नहीं देगा । आज समय है की युवा गाँधी नेहरु के रास्ते पर चलकर मुल्क को दुबारा बनाने के लिए वोह अपना किरदार निभाए।

उत्तराखंड व्उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अज़ीज़ कुरैशी ने हिज्ब उल मुजाहिदीन से कहा है कि उन्हें मालूम होना चाहिए की यह ज़माना लोकतंत्र का है और कोई भी मुल्क एक धर्म के अकीदे पर चलकर टिक नहीं सका है। उन्होंने कहा कि इसकी ताज़ा मिसाल पाकिस्तान का बनना है, दुसरे मजहबो को पूरी आजादी, अधिकार और बराबरी सिर्फ सेकुलर लोकतंत्र में मिल सकती है जिसे हमारे बाबा ए कौम महात्मा गाँधी और देश के शहीदों की कुर्बानी की वजह से मिली है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here