निजी क्षेत्र की एयरलाइन्स लगा सकती हैं शिवसेना सांसद गायकवाड़ पर प्रतिबन्ध

0
2414
गायकवाड़

नयी दिल्ली: अगर ख़बरों को सच माना जाए तो c प्राप्त ख़बरों के मुताबिक इंडिगो, जेट एयरवेज, स्पाइसजेट और गो एयर एयरलाइन्स का एक सामूहिक संगठन दा फेडरेशन ऑफ़ इंडियन एयरलाइन्स जल्द ही शिव सेना सांसद को अपनी सेवाओं के इस्तेमाल करने से रोकने के लिए प्रतिबंधित कर रहा है। ऍफ़आईए के एक सदस्य ने बताया है कि इस सम्बन्ध में जल्द ही कोई बड़ा निर्णय लिया जा सकता है।

हालाँकि, एयर इंडिया ने कुछ समय पहले दा फेडरेशन ऑफ़ इंडियन एयरलाइन्स में अपनी सदस्यता को ख़तम कर लिया था। इसकी वजह संगठन के लगातार सरकारी नीतियों का विरोध करना था और क्योंकि एयर इंडिया सार्वजनिक स्वामित्व वाली कंपनी होने के कारण ऐसा नहीं कर सकती थी। उम्मीद की जा रही है कि एयर इंडिया भी जल्द ही गायकवाड़ के उड़ान भरने पर प्रतिबन्ध लगा देगी।

इससे पहले भारतीय विमान सेवा कंपनियों ने कभी भी किसी व्यक्ति के उड़ान भरने पर प्रतिबन्ध नहीं लगाया है और गायकवाड़ इस प्रतिबन्ध को झेलने वाले पहले व्यक्ति होंगे।

‘सभी एयरलाइन्स के स्टाफ गायकवाड़ द्वारा एयर इंडिया के प्लेन में की गयी हरकत से बेहद दुखी है। गायकवाड़ फिर से हिंसा कर सकते हैं। ऐसे में यह भी हो सकता है कि कोई सहयात्री या एयरलाइन्स स्टाफ भी उनके साथ हिंसक हो जाए। इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से उसके उड़ान भरने पर प्रतिबन्ध लगाना ज़रूरी है,’ एक एयरलाइन्स कर्मी ने कहा।

एयर इंडिया के चेयरमेन अश्वनी लोहानी ने गुरुवार रात को यह साफ़ कर दिया है कि वह इस घटना को हलके में नहीं लेने वाले हैं। लोहानी ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा है, ‘एक सांसद ने दिल्ली में एयरलाइन्स के एक स्टाफ को सिर्फ इसलिए मारा क्योंकि एयरक्राफ्ट में एग्जीक्यूटिव क्लास की सीट नहीं थी। एयरलाइन ने इस सम्बन्ध में दो ऍफ़आईआर दर्ज करायी हैं, एक मारपीट के लिए और दूसरी 40 मिनट तक जबरन एयरक्राफ्ट को बंधक बनाने के लिए। पिछले साल भी तिरुपति में एक ऐसी घटना हुयी थी और उसको भी पूरी गंभीरता के साथ लिया गया था। हम एयर इंडिया के स्टाफ के साथ ड्यूटी के दौरान ऐसी घटनाएं नहीं होने देंगे और उन्हें न्याय दिलाने के सभी प्रयास करेंगे।’

ज्ञात रहे, शिव सेना सांसद ने एयरक्राफ्ट में एग्जीक्यूटिव क्लास के न होने पर इकॉनमी क्लास में बिठाए जाने के बाद एयर इंडिया के एक स्टाफ को 25 बार अपनी सेंडल से मारा और दिल्ली पहुँचने उसे एयरक्राफ्ट से बाहर फेंकने की भी कोशिश की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here