मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के नये राष्ट्रीय अध्यक्ष, शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाया

0
2816
साईकल

लखनऊ: सपा में चल रहे अंदरूनी द्वंद को रोचक मोड़ देते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने रविवार को आपातकालीन राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाया। इस अधिवेशन में स्वयं रामगोपाल ने कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव रखे, जिन्हें सर्वसम्मति से पारित किया गया।

रामगोपाल ने अखिलेश को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा, जिसे अधिवेशन ने सर्वसम्मति से मंजूर किया। अधिवेशन ने मुलायम सिंह यादव को सपा का संरक्षक बनाने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी और साथ ही राज्यसभा सांसद अमर सिंह को पार्टी से बाहर कर दिया है।

अधिवेशन में सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल को पद से हटाने के प्रस्ताव को भी स्वीकृति प्रदान कर दी गई।

हालाँकि इससे पहले, मुलायम सिंह यादव ने पत्र जारी कर इस अधिवेशन को अवैध और असंवैधानिक करार दिया था। उन्होंने कहा था कि अधिवेशन में शामिल होने वालों के खिलाफ अनुशासनहीनता की कार्रवाई की जाएगी।

अधिवेशन में अखिलेश ने कहा कि वह अपने पिता मुलायम का बेहद सम्मान करते हैं और आगे भी करते रहेंगे। ‘‘अगर नेताजी के खिलाफ साजिश हो और पार्टी के खिलाफ साजिश हो तो नेताजी का बेटा होने की वजह से मेरी जिम्मेदारी बनती है कि ऐसे लोगों के खिलाफ हम खड़े हों।’’ उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जो चाहते हैं की प्रदेश में सपा फिरसे सरकार न बना पाए।

रामगोपाल यादव एक बार फिर निष्कासित

इस अधिवेशन के फ़ौरन बाद मुलायम सिंह यादव ने अनुशासनात्मक कार्यवाई करते हुए राज्यसभा सांसद और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव को एक बार फिर पार्टी से निष्कासित कर दिया है। पिछले तीन दिन के अन्दर यह उनका दूसरी बार निष्कासन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here