बुरहानपुर में गिरफ्तार मुस्लिम युवाओं पर से हटा देशद्रोह का आरोप

0
3358
देशद्रोह

मध्यप्रदेश पुलिस ने रविवार को आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत का कथित रूप से जश्न मनाने के लिए 15 मुस्लिम लोगों के खिलाफ लगे देशद्रोह के आरोप हटा दिए हैं।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, बुरहानपुर के एसपी आरआर परिहार ने कहा, “इस मामले में देशद्रोह के आरोप साबित करना मुश्किल है। इसके अलावा, उनमें से कोई भी व्यक्ति आपराधिक पृष्ठभूमि का नहीं है। प्रारंभिक जांच के बाद धारा धारा 124 –ए (देशद्रोह) को हटा कर सिर्फ धारा 153-ए को रखा गया है।”

धारा 153-ए के तहत धर्म, भाषा, नस्ल वगैरह के आधार पर लोगों में नफरत फैलाने की कोशिश के आरोप में तीन साल की सज़ा या जुर्माना या सज़ा और जुर्माना दोनों हो सकते हैं।

देशद्रोह के आरोपों को हटाने का फैसला इन आरोपीयों में से एक के पिता द्वारा भारत के राष्ट्रपति, राष्ट्रीय और राज्य मानवाधिकार आयोगों को पत्र लिखने के एक दिन बाद लिया गया है। उन्होंने भारत के राष्ट्रपति, राष्ट्रीय और राज्य मानवाधिकार आयोगों, और राष्ट्रीय और राज्य के अल्पसंख्यक आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि गिरफ्तार युवा पुरुष पूरी तरह निर्दोष है और पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के लिए पटाखों उन्होंने नहीं फोड़े हैं।

पुलिस के मुताबिक, रविवार को मोहाद गांव में कुछ लोगों ने चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के भारत को हारने पर पाकिस्तान के पक्ष में नारे लगाए थे और पटाखे भी फोड़े थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here