बिहार : मुस्लिम लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार, नहीं हो रही कोई सुनवाई

0
5678

मेहंदी हसन ऐनी 
नवादा (बिहार ) : बिहार के नवादा में एक मुस्लिम लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार की घटना को नौ दिन हो चुके हैं, लेकिन प्रशासन की तरफ से अभी तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गयी है।

19 फरवरी को बिहार के अकबरपुर जिले के फरहा गाँव में कल्लू मियां, जो पेशे से एक रिक्शा चालक हैं, उनकी बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार करने के बाद उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया गया था। यह घटना लड़की के साथ उस वक़्त हुयी जब वह अपनी माँ के साथ बाहर शौच के लिए गयी थी। अत्यधिक गरीबी के कारण पीड़िता के परिवार के घर में शौचालय नहीं है। इसलिए उसके परिवार को नित्यक्रिया के लिए बाहर जाना पड़ता है। उसकी माँ के रोने और गिड़गिड़ा कर बेटी को छोड़ देने के अनुरोध ने भी सशस्त्र अपराधियों पर कोई  फर्क नहीं  डाला।

बदमाशों ने उस लड़की के साथ बलात्कार करने के बाद उसका गला काट कर हत्या करने की भी कोशिश की। लेकिन वे पूरी तरह से कामयाब न हो सके। अब वह लड़की एक सरकारी अस्पताल में मेडिकल टेस्ट  हुए बिना ज़िन्दगी और मौत के बीच झूल रही है।

स्थानीय पुलिस पीड़िता के बयान को एफआईआर में शामिल करने से मना कर रही है और इस मामले पर पर्दादारी की कोशिश कर रही है। पीड़िता के पिता ने बताया कि उनकी मदद करने की जगह पुलिस उन पर इस मामले को दबाने के लिए दबाव बना रही है।

इस लेखक ने कुछ अन्य साथियों के साथ इस मामले के सन्दर्भ में नवादा के जिला मजिस्ट्रेट से मुलाक़ात की और मामले में हस्तक्षेप की गुज़ारिश की। उनके सुझाव के अनुसार हमने पुलिस अधीक्षक से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है।

इस मामले में पुलिस ने पीड़ित परिवार को और परेशान करने और मामले को रफा दफा करने की गरज से अब पीड़िता के भाई के खिलाफ एक फर्जी शिकायत दर्ज कर दी है। यह पुलिस का बेहद दुखी और व्यथित करने वाला कदम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here